राजकीय नर्सिंग महाविद्यालय का मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किया वर्चुअल शिलान्यास

- 21 करोड़ की लागत से होगा निर्माण, प्रतिवर्ष 60 स्टूडेंट बीएससी नर्सिंग में ले सकेंगे एडमिशन

0
142
राजकीय नर्सिंग महाविद्यालय का मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने किया वर्चुअल शिलान्यास

हनुमानगढ़ : राजकीय नर्सिंग महाविद्यालय का मंगलवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पाली से वर्चुअल शिलान्यास किया। इस अवसर पर हनुमानगढ़ के अलावा 18 अन्य नर्सिंग कॉलेजों का भी मुख्यमंत्री ने वर्चुअल शिलान्यास किया। इस अवसर पर टाउन स्थित जिला अस्पताल परिसर में जिला प्रभारी मंत्री गोविंद राम मेघवाल, राजस्थान राज्य वित्त एवं विकास आयोग के अध्यक्ष (राज्यमंत्री) पवन गोदारा, जिला कलेक्टर रुकमणि रियार, भूपेंद्र चौधरी, नगर परिषद चेयरमैन गणेश राज बंसल, उप जिला प्रमुख मुकेश सहारण, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष जितेंद्र गोयल, हनुमानगढ़ प्रधान प्रतिनिधि दयाराम जाखड़, संगरिया प्रधान प्रतिनिधि कृष्ण जैन, प्रवीणा मेघवाल, संगरिया के अशोक चौधरी, पूज्य सिंधी पंचायत के अध्यक्ष खजान चंद, डॉ रविंद्र गौतम, मुकेश भार्गव, मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल डॉ मोहन सिंह, सीएमएचओ डॉ नवनीत शर्मा, पीएमओ डॉ मुकेश कुमार, एडिशनल एसपी जस्सा राम, सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी सुरेश बिश्नोई,मेडिकल जूरिस्ट डॉ शंकर सोनी, नर्सिंग एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष गुगन सारण समेत बड़ी संख्या में अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सहयोग से कार्यक्रम लाइव किया गया। विभाग के उपनिदेशक योगेंद्र कुमार, डॉ केंद्र प्रताप, सतवीर का विशेष सहयोग रहा। शिलान्यास कार्यक्रम के बाद प्रभारी मंत्री और अन्य अतिथियों ने जिला अस्पताल परिसर में ही चिकित्सा विभाग की उपलब्धियों को लेकर लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। कार्यक्रम के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए जिला प्रभारी मंत्री मेघवाल ने कहा कि मैं मुख्यम्ंत्री का धन्यवाद देना चाहता हूं। पूरे राजस्थान में जबरदस्त उत्साह का माहौल है। 21 करोड़ की लागत से नर्सिंग कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया है। इससे पहले करीब 350 करोड़ की लागत से मेडिकल कॉलेज का निर्माण चल रहा है। साथ ही कहा कि राज्य के मुख्यमंत्री अगला बजट युवाओं के लिए लाएंगे। ऐतिहासिक बजट होगा और राजस्थान को विकास की ओर ले जाने वाला बजट होगा।

इस अवसर पर राजस्थान राज्य वित्त एवं विकास निगम के अध्यक्ष ( राज्य मंत्री ) पवन गोदारा ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि राज्य की सरकार हर तबके को ध्यान मं रखते हुए योजना बना रही है। पूरे देश में चिरंजीवी जैसी शानदार योजना राजस्थान सरकार राज्य में लेकर आई है। आज कोई भी व्यक्ति बीमार पड़ता है तो उसे पैसे को लेकर सोचने की जरूरत नहीं है। किसी के आगे हाथ फैलाने की जरूरत नहीं है। इस बार किसानों के लिए बजट समर्पित किया गया। आने वाला बजट युवाओं को समर्पित होगा। जिसका फायदा युवा वर्ग को मिलेगा सीएमएचओ डॉ नवनीत शर्मा ने बताया कि राजकीय नर्सिंग कॉलेज हनुमानगढ़ का संचालन सत्र 2022-23 के लिए अस्थाई रूप से वर्तमान में संचालित ANMTC हनुमानगढ़ के भवन में 60 छात्र-छात्राओं की प्रतिवर्ष प्रवेश क्षमता के साथ किया जायेगा। इस हेतु राजस्थान नर्सिंग कॉन्सिल, जयपुर से मान्यता प्राप्त हो गई है। और स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय जयपुर से सत्र 2022-23 के लिए सम्बद्धता हेतु फीस जमा करा दी गई है। शैक्षणिक गतिविधियों के सफल संचालन हेतु राज्य सरकार द्वारा कुल 16 शैक्षणिक एवं 28 गैर शैक्षणिक संकाय के पदों का सृजन किया जा चुका है।

आएसआरडीसी के पीडी बीएस स्वामी ने बताया कि राजकीय नर्सिंग कॉलेज हनुमानगढ़ के भवन का निर्माण 21 करोड़ की लागत से कार्यकारी एजेंसी आरएसआरडीसी के द्वारा किया जा रहा है। 20 सितंबर 2022 को एल.ओ.ए. जारी कर दिया गया है जिसके अनुसार निर्माण कार्य 19 दिसंबर 2023 तक पूर्ण होना संभावित है। राजकीय नर्सिंग कॉलेज हनुमानगढ़ के भवन व दोनों छात्रावास के निर्माण हेतु 21 करोड़ 03 लाख की स्वीकृति राज्य सरकार द्वारा जारी की जा चुकी है।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने वर्ष 2022-23 के बजट में हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर राजकीय नर्सिंग कॉलेज स्थापित करने की घोषणा की थी। चार वर्ष पूर्व राज्य में मात्र 10 राजकीय नर्सिंग कॉलेज प्रतिवर्ष कुल 830 बीएससी नर्सिंग सीट के साथ चल रहे थे। राज्य सरकार ने वर्तमान में प्रत्येक जिले में मेडिकल कॉलेज तथा नर्सिंग कॉलेज खोलने का निर्णय लिया। बजट घोषणाओं की क्रियान्विति में राज्य में अब तक कुल 26 नवीन नर्सिंग महाविद्यालय खोले जा रहे हैं। इसमें बीएससी नर्सिंग पाठ्यक्रम में कुल 1560 अतिरिक्त प्रवेश क्षमता सृजित होगी। यह वर्ष 2019-20 की तुलना में लगभग दो गुनी वृद्धि हुई है। इस प्रकार राज्य में प्रति वर्ष 2390 छात्र / छात्राएं राजकीय नर्सिंग महाविद्यालयों में प्रवेश पा सकेंगे तथा चिकित्सा संस्थानों को दक्ष एवं प्रशिक्षित नर्सिंग कार्मिक उपलब्ध होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here