ओटोस्क्लेरोसिस नामक दुर्लभ बीमारी से मरीज को दिलाया छुटकारा

0
146
Otosclerosis_

उदयपुर। पेसिफिक मेडिकल काॅलेज एण्ड हाॅस्पिटल के कान नाक गला रोग विभाग में 23 बर्षीय युवक का ओटोस्क्लेरोसिस नामक दुर्लभ बीमारी का ऑपरेशन कर मरीज को इस गंभीर बीमारी से निजात दिलाई। इस सफल उपचार में कान,नाक एवं गला रोग विभाग के विभागाघ्यक्ष डाॅ.पी.सी.जैन, डाॅ.राजेन्द्र गोरवाडा, डाॅ.शिव कौशिक, डाॅ.प्रकाष औदित्य, डाॅ.विक्रम एवं अनिल भट्ट की टीम का सहयोग रहा।

दर असल नीमच निवासी 23 वर्षीय युवक को पिछले लम्बे समय से सुनाई न देने की समस्या थी। देश सेवा के सेना मे भर्ती होने की इच्छा के चलते इस युवक ने कई जगह इलाज कराया लेकिन कोई लाभ नहीं मिला। परिजन युवक को पीएमसीएच लेकर आए यहाॅ उन्होने उसे कान नाक एवं गला रोग विशेषज्ञ डाॅ.शिव कौशिक को दिखाया तो जाॅच करने पर पता चला कि युवक की जाॅच करने पर एडवांस स्टेज ओटोस्क्लेरोसिस नमक बीमारी का पता चला जिसका की ऑपरेशन द्वारा ही इलाज सम्भव था।

डाॅ.शिव कौशिक ने बताया कि मरीज कर दुरबीन द्वारा बिना चीरे के ऑपरेशन किया गया इस जटिल ऑपरेशन में कान की हड्डी को पिस्टन से रिप्लेस किया गया। डॉ.कौशिक ने स्पष्ट किया कि ओटोस्क्लेरोसिस बीमारी में कान के बीच की हड्डी के बढ़ने से सुनाई आने में ‎दिक्कत होने लगती है । यह आमतौर पर वंशानुगत होती है अगर पिता या माता को है तो बच्चो को होने का ‎भी खतरा रहता है। यह बीमारी एक कान में शुरू होती है और बाद में जीवन में दोनों कानों में हो जाती है। जिसमें शुरू में तो कम सुनाई देता है लेकिन धीरे-धीरे आदमी को विलकुल सुनना बन्द हो जाता है। मरीज एक सामान्य मनुष्य की तरह पूर्णरूप से सुन पा रहा है। मरीज के परिजनों ने बताया कि यह किसी चमत्कार से कम नहीं है। परिजनों ने पीएमसीएच के चेयरमैन राहुल अग्रवाल, सभी चिकित्सकों, मैनेजमेंट, नर्सिंग कर्मियों एवम् स्टाफ का आभार जताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here