कन्हैयालाल हत्याकांड में अफवाह फैलाने वाले को लेकर NIA की उदयपुर में छापेमारी, चार को पकड़ा

0
308
कन्हैयालाल

उदयपुर : कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की टीम एक बार फिर उदयपुर पहुंची। सोमवार शाम और मंगलवार को NIA ने दो जगहों पर दबिश दी। साथ ही कई संदिग्ध लोगों से पूछताछ भी की गई। इनमें उदयपुर अंजुमन के सदर मुजीब सिद्दिकी और सचिव फारुक शामिल हैं। इनके घरों की तलाशी के बाद इन्हें हिरासत में लिया गया। NIA टीम ने दो अन्य लोगों को भी पकड़ा है। इनके बारे में अभी तक कोई जानकारी सामने नहीं है। सिद्दिकी की पत्नी समीना ने बताया कि उन्होंने NIA की जांच में पूरा सहयोग किया। टीम का बर्ताव भी उनके साथ अच्छा था। मामले में सदर का भी दावत-ए-इस्लाम से जुड़ाव सामने आया है। उसी के चलते संदिग्ध मानते हुए पूछताछ की गई है।

तीन आरोपियों को पुलिस रिमांड पर भेजा

वहीं, आज जयपुर में हत्याकांड में अब तक गिरफ्तार सभी सात आरोपियों को एनआईए कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने गौस मोहम्मद, रियाज और फरहाद को 16 तक रिमांड पर भेजा है। वहीं, अन्य आरोपियों में आसिफ हुसैन, मोहम्मद मोहसिन, वसीम,मोहसिन खान को ज्यूडिशियल कस्टडी में भेजा है।

धमकी देने वालों की गिरफ्तारी

अब तक जांच में सामने आया है कि उदयपुर में कुल 5 लोगों को धमकियां मिली थी। इनमें एक मृतक कन्हैयालाल भी थे। उदयपुर के आईजी प्रफुल्ल कुमार ने बताया कि ये सभी धमकियां हत्याकांड से पहले ही दी गई थी। हालांकि, धमकी देने के आरोप में गिरफ्तार किए गए लोगों का रियाज और गौस से सीधा कनेक्शन सामने नहीं आया है।

वहीं, घटना वाले दिन से उदयपुर पुलिस पूरे मामले में उन लोगों को पकड़ने में जुटी है जाे या तो सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाल रहे हैं और किसी काे धमकाया है। इसे लेकर अब तक उदयपुर पुलिस ने भी 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। जिन्होंने धमकी दी थी। इधर मंगलवार से उदयपुर में कर्फ्यू को घटाकर महज 6 घंटे का कर दिया गया है। शहर में अब ये कर्फ्यू रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here