विप्र फाउंडेशन के अमृत भारत रथ का ठाणे और भायंदर में अभूतपूर्व स्वागत

- विफा के महाराष्ट्र जोन-12 की टीम और अन्य ब्राह्मण संगठनों ने यात्रा के स्वागत में बिछा दिए पलक पांवड़े
- विप्र एकता का संगम, रचा नया इतिहास

0
210
विप्र फाउंडेशन के अमृत भारत का ठाणे और भायंदर में अभूतपूर्व स्वागत

मुंबई। महाराष्ट्र जोन-12 प्रदेशाध्यक्ष सीए रामावतार जी के नेतृत्व में, महामंत्री सुरेश नागदा, सीए दयाराम पालीवाल, सीए गोविंद शर्मा, कोषाध्यक्ष सीए सुरेश पुरोहित एवम महिला प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष मंगला पुरोहित के सहयोग से शुक्रवार को ठाणे व भायंदर में श्री परशुराम कुंड आमंत्रण यात्रा के शानदार कार्यक्रम आयोजित हुए।

भायंदर में आयोजित बाइक रैली, विशाल शोभायात्रा एवम शानदार जनचेतना सभा हेतु सीए दयाराम , सीए मनोज रिणवा , निर्मला कौशिक, सीए अभिषेक तिवारी, एडवोकेट तरुण शर्मा सहित मीरा भायंदर के नेतृत्व, महिला प्रकोष्ठ, समस्त सहयोगी संस्थाओं एवम कार्यकर्ताओं की शानदार भागीदारी रही।

विप्र फाउंडेशन के अमृत भारत का ठाणे और भायंदर में अभूतपूर्व स्वागत

राष्ट्रीय अध्यक्ष राधेश्याम शर्मा गुरुजी, उपाध्यक्ष सत्यनारायण श्रीमाली, मुख्य समन्वयक श्रीकिशन जोशी, राष्ट्रीय महामंत्री डॉ सीए सुनील शर्मा, जोन प्रभारी राजेन्द्र झिरमिरिया सहित केंद्रीय कार्यकारिणी के अनेक सदस्यों के अतिरिक्त आचार्य सुभाष , छेदीलाल पुरोहित, ओमप्रकाश कावड़िया, सीए गोविंद शर्मा, सीए सुरेश पुरोहित, मुकेश शर्मा, सीए तरुण ढंड, विकास बढ़ाडरा, एडवोकेट मनोज शर्मा, श्रीमती मंगला पुरोहित, सीए कृष्णा पुरोहित, पवन शर्मा, सीए मुरली शर्मा, निर्मला कौशिक, गायत्री पिचलंगिया, पद्मा शर्मा, शोभा ध्यानी, ममता दवे तिवारी, प्रकाश जालुका, सीए हरि पालीवाल, पवन चोटिया, प्रमोद व्यास, राजू जी, संजय जी एवम रामगोपाल जी ने भी सक्रिय उपस्थिति दर्ज करा कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। कार्यक्रम का सुंदर संचालन RJ राजेश राजपुरोहित ने किया और उनका साथ दिया श्रीप्रकाश जालुका ने।

भायंदर के कार्यक्रम में परशुराम चौक पर रथ का स्वागत ACP जाधव साहब एवम भायंदर के थाना प्रभारी ने किया। जनचेतना सभा के गणमान्य अतिथियों में भाजपा जिलाध्यक्ष एडवोकेट रवि व्यास, विधायक गीता जैन, पूर्व विधायक नरेंद्र मेहता, उप महापौर हँसमुख दावे, पूर्व महापौर डिंपल मेहता के साथ साथ बड़ी संख्या में स्थानीय राजनेता मौजूद थे। इस अवसर पर एडवोकेट रवि व्यास ने मूर्ति हेतु एक लाख ग्यारह रुपये के अंशदान की भी घोषणा की। पवन शर्मा द्वारा इक्यावन हजार रुपये के अंशदान की प्रशंसा करते हुए सभी से इस प्रकल्प हेतु यथाशक्ति अंशदान कर पुण्य प्राप्ति की अपील भी की गई।

विप्र फाउंडेशन के अमृत भारत का ठाणे और भायंदर में अभूतपूर्व स्वागत

ब्राम्हण समाज के अग्रणी नेताओं में सत्येंद्र शर्मा, योगिता शर्मा, सुधा व्यास, सुनीला शर्मा ने कार्यक्रम की शोभा बढाई।
सुबह ठाणे में भी गाजे बाजे के साथ शानदार सभा एवम कलश यात्रा का आयोजन जोन-12 प्रभारी राजेंद्र झिरमिरिया की देखरेख में एवम ठाणे अध्यक्ष महावीर प्रसाद शर्मा (तावनिया) के नेतृत्व में किया गया। कार्यक्रम में ठाणे के वरिष्ठ विप्र समाज नेता ओमप्रकाश शर्मा के साथ ही साथ महेश जोशी, विजय बसावतिया, पवन शर्मा, श्याम सुंदर जी, महेश बागड़ा, भूपेंद्र भट्ट, श्रीकांत जोशी, मदन लाल शर्मा व अन्य गणमान्यजन उपस्थित थे। दो सौ से अधिक महिलाओं एवम पुरुषों ने छुट्टी न होते हुए भी पूरे जोश के साथ कार्यक्रम मे भाग लिया।

विप्र फाउंडेशन के राष्ट्रीय नेतृत्व का प्रतिनिधित्व जोन प्रभारी राजेन्द्र झिरमिरिया के साथ साथ राष्ट्रीय समन्वयक श्रीकिशन जोशी एवम राष्ट्रीय महामंत्री डॉ सीए सुनील शर्मा ने किया। रथ के साथ कांची से चल रहे चिरंजीवी स्वामी राम नारायण दास, उमेन्द्र दाधीच, माधव शर्मा , अमित गौड़ का भी सम्मान किया गया।

विप्र फाउंडेशन के अमृत भारत का ठाणे और भायंदर में अभूतपूर्व स्वागत

शनिवार की सुबह भायंदर से प्रस्थान के उपरांत अमृत भारत रथ का मुंबई अहमदाबाद हाईवे पर बोइसर तारापुर चैप्टर की तरफ से स्वागत एवम रथ पर आरूढ़ भगवान परशुराम जी की पूजा अर्चना की। इनमें अध्यक्ष विनीत वशिष्ठ के साथ बी. एच. पारीक, संतोष डिडवानिया, विनीत वशिष्ठ, मनोज जोशी, नथमल रूंथला, अनिल डिडवानिया, अनिकेत पारीक शामिल थे। श्री परशुराम दिव्य मूर्ति हेतु बोइसर तारापुर चैप्टर से अंशदान हेतु चेक भी श्री चरणों मे अर्पित किया गया।

श्री महालक्ष्मी जी को चारोटी डहाणू मंदिर में पीले चावल देकर रथ महाराष्ट्र से गुजरात की लिए रवाना हुआ। गुजरात के लिए सूरत एवम वापी के नेतृत्व एवम सदस्यों ने किया। महालक्ष्मी मंदिर पर भव्य स्वागत किया एवम मुम्बई से रथ के साथ चल रहे राष्ट्रीय महामंत्री डॉ सीए सुनील शर्मा, जोन-12 महामंत्री सीए दयाराम पालीवाल एवम अन्य सदस्य आगे की यात्रा हेतु सूरत गुजरात की मीठालाल जोशी के नेतृत्व में आई टीम के संरक्षण में दिया। इस तरह से अमृत भारत रथ की परशुराम कुंड आमंत्रण यात्रा की ज़ोन 12 की त्रिदिवसीय यात्रा समाप्त हुई। यह त्रिदिवसीय यात्रा कार्यक्रम अनूठा एवम अभूतपूर्व होकर सभी के स्मृति पटल पर चिरकाल के लिए अंकित हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here