1 मई से कोविड मरीज भी निजी अस्पताल में फ्री इलाज करा सकेंगे

चिरंजीवी योजना में रजिस्ट्रेशन करवाना होगा अनिवार्य

1
725

जयपुर: प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चिरंजीवी योजना को लेकर कहा कि चिरंजीवी योजना तो एक मई से प्रदेश में लागू हो जाएगी. अस्पताल में भर्ती होने पर ही योजना का लाभ मिलेगा. ऑपरेशन होने के 15 दिन बाद तक का इलाज भी कवर होगा. उन्होंने ने कहा कि इस योजना में कोविड को भी जोड़ा गया है. 1 मई बाद कोविड मरीज भी निजी अस्पताल में फ्री इलाज करा सकेंगे. मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि ई-मित्र को पूरा पैसा सरकार देगी. ई-मित्र वालों को 5 रुपए बोनस भी मिलेगा. 80 फीसदी रजिस्ट्रेशन के बाद बोनस मिलेगा. जिनका बीमा के तहत पहले से रजिस्ट्रेशन है. उनको अब नए सिरे से रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं. बजट में घोषणा तो कई होती है, लेकिन पूरा करने में साल लग जाता है. मैंने बजट घोषणा करने के साथ ही सीएस आर्य को फोन किया था. विधानसभा से घर आते ही निरंजन आर्य को फोन किया था.बजट घोषणाएं पूरी करने के लिए विभागों को निर्देश देने का फोन किया.

प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर:
सीएम गहलोत ने कहा कि पहले तो सोचा था कि चिरंजीवी योजना पर बात करूंगा, लेकिन जिस तरह से 10 दिन में स्थिति बदली हैं. उसके बाद अब कोरोना पर पहले बात करना जरूरी हो गया. पिछली साल हमने कोरोना को पूरी तरह नियंत्रित रखा. पीएम मोदी ने भी राजस्थान की तारीफ की थी. हम कोरोना को लेकर रोजाना विशेषज्ञों के साथ बात कर रहे है. कोरोना की दूसरी लहर प्रदेश में आ चुकी है.

महाराष्ट्र में स्थिति नियंत्रण के बाहर:
कोरोना की भयावह स्थिति के बारे में बताया सीएम गहलोत ने कहा कि महाराष्ट्र में स्थिति नियंत्रण के बाहर है. प्रदेश में भी लगातार मामले बढ़ रहे हैं. इसके बावजूद भी लोग लापरवाह बने हुए हैं. पहले डर था, लेकिन अब भय खत्म हो गया है. मैं आंकड़े बता रहा हूं, लेकिन लोग ध्यान नहीं देते. इस बार भी हमने कड़े फैसले किए हैं. इसके बावजूद मास्क नहीं लगा रहे. पुलिस का सहयोग भी एक सीमा तक लेना चाहिए. फिर झगड़े होंगे, लोग बेइज्जती महसूस करेंगे.

डूंगरपुर और उदयपुर में भी गांवों में कोरोना फैला:
सीएम गहलोत ने कहा कि पिछली बार कोरोना गांव में नहीं फैला था, लेकिन अब शहर में जो मृत्यु हो रही है. उनमें से 30 फीसदी लोग गांव के हैं. डूंगरपुर व उदयपुर में भी गांवों में कोरोना फैला है. हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते हैं. लेकिन जिंदगी बचे यह ज्यादा जरूरी है. उन्होंने कहा कि वैक्सीन को लेकर केंद्रीय मंत्री सफेद झूठ बोल रहे हैं. हम आलोचना नहीं कर रहे, सिर्फ जानकारी दे रहे हैं. पीएम कहते हैं कि टीका उत्सव मनाओ, हमने कहा मनाएंगे, लेकिन टीके तो भेजो. वैक्सीन की कमी को हम राजनीतिक मुद्दा नहीं बना रहे है, लेकिन हमें केंद्र को वैक्सीन के बारे में जानकारी तो देनी पड़ेगी. सीएम गहलोत ने कहा कि इस बार कोरोना का मिजाज खतरनाक है. कल मैंने एक मरीज के लिए अहमदाबाद बात की. अब पता लगा कि उसकी रात 2 बजे मौत हो गई. अभी कुछ देर पहले मुंबई में किसी से बात की. उसको हिम्मत बढ़ाई है कि आप स्वस्थ हो जाओगे.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here