विप्र रत्न सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के टॉप 3 विजेताओं का सम्मान

-विप्र फॉउंडेशन भरतपुर

1
876
vipra ratan gk compition held by vipra foundation
विप्र रत्न सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के टॉप 3 विजेताओं का सम्मान

भरतपुर। विप्र रत्न 2021 सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता में प्रथम,द्वितीय, तृतीय, आये अभ्यर्थियों का सम्मान किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि विप्र फॉउंडेशन जोन-1डी के प्रदेशाध्यक्ष वेदप्रकाश उपाध्याय थे। विशिष्ट अतिथि जोन के प्रदेश संगठन महामंत्री शान्तनु पाराशर रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता सेवानिवृत्त संयुक्त निदेशक शिक्षा विभाग, भरतपुर श्रीमती इंद्रा त्यागी ने की। सर्वप्रथम अतिथियो एवं विप्र फॉउंडेशन प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा भगवान परशुराम जी के चित्रपट पर माल्यार्पण एवं दिप प्रज्वल्लन किया गया प्रदेश संगठन महामंत्री श्री शान्तनु पाराशर जी ने भगवान परशुराम जी की आरती गायी। स्वागत भाषण विप्र फॉउंडेशन के जिला उपाध्यक्ष एवं विप्र रत्न 2021 के जिला परीक्षा प्रभारी श्री केदारनाथ पाराशर जी ने दिया।

इसके उपरान्त अतिथियो का माला एवं अंग वस्त्र पहिना कर विप्र फॉउंडेशन के प्रदेशाध्यक्ष (युवा) इन्दुशेखर शर्मा, प्रदेश महामंत्री एवं जिला प्रभारी दयाचन्द पचौरी, जिला समन्वयक विनोद बिहारी भारद्वाज, प्रदेश महामंत्री (महिला प्रकोष्ठ) बबिता शर्मा, प्रदेश सचिव यतेंद्र पांडेय ,प्रदेश उपाध्यक्ष(युवा) मनीष भाँडोर, प्रदेश महामंत्री(युवा) अमृत भारद्वाज, प्रदेश महामंत्री(युवा) अभिषेक तिवारी, प्रदेश सचिव( युवा) देवाशीष भारद्वाज, प्रदेश सचिव(युवा) कमल कांत त्यागी ने स्वागत किया।
विप्र रत्न प्रतियोगिता 2021 के जिला स्तरिय मैरिट के टॉप-3 विजेताओं को विप्र फॉउंडेशन ज़ोन-1 डी के प्रदेशाध्यक्ष वेदप्रकाश उपाध्याय, प्रदेश संगठन महामंत्री शान्तनु पाराशर, प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष गंगाराम पाराशर, प्रदेश महामंत्री एवं जिला प्रभारी दयाचन्द पचौरी, प्रदेशाध्यक्ष(युवा) इन्दुशेखर शर्मा, जिला समन्वयक विनोद बिहारी भारद्वाज, प्रदेश महामंत्री (महिला प्रकोष्ठ) बबिता शर्मा द्वारा प्रतियोगिता में प्रथम आये चन्द्रकान्त शर्मा को 5100 रुपये नगद पुरस्कार ट्रॉफ़ी एवं प्रशस्ति पत्र, परीक्षा में द्वितीय स्थान पर आई रुचि शर्मा को 4100 रुपये नगद पुरस्कार ट्रॉफी एवं प्रशस्ति पत्र परीक्षा में तृतीय स्थान पर आए प्रियांशु लवानिया को 3100 रुपये नगद पुरस्कार ट्रॉफी एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए।

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि श्री शान्तनु पाराशर जी ने विप्र रत्न प्रतियोगिता के महत्व को समझाया इससे पहली बार ओ.एम.आर शीट पर परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों को सीखने को मिला एवं विप्र फॉउंडेशन के उद्देश्यों से एव सम्पूर्ण भारत मे चल रहे विप्र फॉउंडेशन के विभिन्न प्रकल्पों से सभी को अवगत करवाया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रदेशाध्यक्ष वेदप्रकाश उपाध्याय जी ने अपने भाषण में कहा कि समाज को आपसी सहयोग की भावना रखते हुए काम करना चाहिए समाज को गरीब कन्याओं के विवाह हेतु सामूहिक विवाहो का आयोजन करना चाहिए जिसमें सामाज के हर एक व्यक्ति को अपना आर्थिक, शारारिक और मानसिक रुप से सहयोग करना चाहिये । लंबे समय से समाज में व्याप्त कुप्रथाओ आपसी सहमति से अब बंद कर देना ही उचित है। अपने भाषण में आर्थिक रूप से कमजोर ब्राह्मण बालक जो दूर गाँव से पढ़ने आते है। उनके लिए ब्राह्मण छात्रावास भरतपुर समाज के योगदान से बने जिसके लिए घर घर जाकर चन्दा एकत्र करो जिससे बच्चो को शिक्षा प्राप्त करने मे सुगमता हो ।
ब्राह्मण अपने कर्म को न भूलें और अपने बौद्धिक विकास के लिए चिंतन और आत्म मंथन करे।
इसके उपरान्त अध्यक्षीय भाषण में श्रीमती इंद्रा त्यागी जी ने समाज की महिलाओं से आग्रह किया कि वह भी समाज के कार्यक्रमो एव समाज उत्थान में अपनी महती भूमिका निभाए।

इसके पश्चात भजन मंडली द्वारा होली के भजन की प्रस्तुति दी गयी विप्र फॉउंडेशन कार्यकारणी द्वारा आगन्तुकों पर पुष्प वर्षा की गई। ।
कार्यक्रम का संचालन जिलाउपाध्यक्ष विपुल शर्मा एवं प्रदीप शर्मा दे किया।
कार्यक्रम समापन पर आभार विप्र फॉउंडेशन के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष गंगाराम पाराशर ने व्यक्त किया।
इस अवसर पर विप्र फॉउंडेशन के जिलाध्यक्ष (ग्रामीण) ताराचंद शर्मा, जिला उपाध्यक्ष बंटू भाई, जिला महामंत्री सुरेश शर्मा, जिला सचिव पवन पाराशर, जिला महासचिव एड. हेमराज शर्मा, राजेन्द्र जति, जिला महामंत्री राज कौशिक , कुलदीप दीक्षित आदि उपस्थित रहे ।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here