श्रीगंगानगर में विश्व प्रसिद्ध लैला मजनू की स्क्रीनिंग आयोजित

0
65

श्रीगंगानगर: विश्व प्रसिद्ध लैला मजनू की प्रेम कहानी को लेकर अनेक फिल्में और नाटक खेले गए हैं। अब श्रीगंगानगर में लैला मजनू के अनूपगढ़ स्थित दरगाह को लेकर भी डॉक्यूमेंट्री बनाई गई है। डेल्फिक काउंसिल ऑफ राजस्थान तथा राष्ट्रीय कला मंदिर के द्वारा शुक्रवार को राष्ट्रीय कला मंदिर के रामजस कला सदन में मजार ऐ लैला मजनू डॉक्यूमेंट्री फिल्म का प्रसारण किया जाएगा। डॉक्यूमेंट्री के निर्माता और निर्देशक राहुल सूद ने बताया कि श्रीगंगानगर के अनूपगढ़ स्थित बिजोर क्षेत्र में लैला मजनू की दरगाह काफी प्रसिद्ध है ।श्रीगंगानगर जिले में पर्यटन के लिहाज से भी यह स्थल काफी उर्वर है। ऐसे में आम जन को इस क्षेत्र की लैला मजनू की दरगाह पर हर साल 5 दिन का शानदार मेले का आयोजन किया जाता है । इसको पर्यटन सर्किट में शामिल करने के प्रयास किए जा रहे हैं। मजार ऐ लैला मजनू की स्क्रीनिंग के जरिए इस क्षेत्र के लोगों को लैला मजनू के इतिहास को भी पता चलेगा। श्रीगंगानगर के एक होटल में आयोजित पत्रकार वार्ता में राहुल सूद ने बताया कि इसमें तमाम तरह का ऐतिहासिक अध्ययन करके तथा नए तथ्यों को जोड़कर 21 मिनट की यह फिल्म बनाई गई है जिसने जिसने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों को हासिल किया है। पत्रकार वार्ता में राष्ट्रीय कला मंदिर के अध्यक्ष निर्मल जैन, सचिव सुरेंद्र कछवाहा के साथ आयोजक जगीरचंद फरमा,सीए विजय गोयल भी मौजूद रहे।

डॉक्यूमेंट्री स्क्रीनिंग के अवसर पर मुख्य अतिथि जिला कलेक्टर रुकमणी रियार रहेंगी। वहीं विशिष्ट अतिथि के रूप में जिला परिषद के सीईओ मोहम्मद जुनेद एवं नितिन अग्रवाल होंगे। इस डॉक्यूमेंट्री के निर्माता राहुल सूद ने इससे पहले काफी फिल्मों में और सीरियल में काम किया है वहीं आरजू है तू, रामायण, सुराग, हेलो इंस्पेक्टर, सीआईडी, राजस्थानी फिल्म थोर, नानी बाई का मायरा जैसी अनेक फिल्मों में काम किया है । अब सूद जयपुर में अपनी फिल्म निर्माण कंपनी चलाते हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here