अप्रधान खनिजों के 639 खनन पट्टों की ई नीलामी, छोटे प्लॉटों की नीलामी से स्थानीय लोगों की भागीदारी व रोजगार के अवसर बढ़ेंगे-एसीएस डॉ. अग्रवाल

  • 27 जून से 23 अगस्त तक भारत सरकार के ई पोर्टल पर होगी नीलामी
  • भारत सरकार के पोर्टल पर विस्तृत जानकारी व शर्तें उपलब्ध

0
115
खनन

जयपुर। राज्य के माइंस विभाग ने 639 अप्रधान खनन प्लाटों की ई नीलामी की प्रक्रिया शुरु कर दी है। अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस, पेट्रोलियम व पीएचईडी डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि करीब 19 जिलों में अधिकांश एक हैक्टेयर के खनन प्लॉट ऑक्शन के लिए विकसित किए गए हैं इससे कम पूंजी वाले स्थानीय लोगों की भी खनन गतिविधियों में भागीदारी बढ़ेगी, वहीं स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। एसीएस माइंस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य मेें वैध खनन को बढ़ावा देने और स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर सुलभ कराने पर बल देते रहे हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए अप्रधान खनिजों के छोटे छोटे यहां तक कि अधिकांश प्लॉट एक हैक्टेयर के तैयार किए गए हैं ताकि कम पूंजी वाले स्थानीय लोगों की माइनिंग क्षेत्र में भागीदारी बढ़ सके।

माइन्स व गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया का भी अप्रधान खनिजोें के छोटे प्लॉट विकसित कर पारदर्शी व्यवस्था के तहत नीलामी पर जोर रहा है जिससे अधिक व स्थानीय लोगों की भागीदारी व रोजगार के अवसर सुलभ हो सके। डॉ. अग्रवाल ने बताया कि माइंस विभाग ने वित्तीय वर्ष की शुरुआत में ही 639 अप्रधान खनिजों के प्लॉट विकसित कर नीलामी की प्रक्रिया शुरु कर दी है। खनन पट्टों की नीलामी भारत सरकार के ई पोर्टल के माध्यम से की जाएगी ताकि नीलामी की प्रक्रिया पारदर्शी तरीके से पूरी हो सके। नीलामी प्रक्रिया 27 जून से आरंभ होकर 23 अगस्त तक चलेगी।

एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि पाली के रायपुर भवरिया में मेसेनरी स्टोन के 46 बाली भीटवाड़ा में ग्र्रेनाइट की 2, नागौर के रियाबड़ी सुरजगढ़ में ग्रेनाईट की 11, मुण्डवा की असावरी, खुडखुडकलां, मेडता की नोखा चांदावता, ताड़ो की ढ़ाणी, नागौर की खारीकर्मसोता में मेसेनरी स्टोन की 59, जयपुर के जमवारामगढ़ मातासुला, कोटपूतली के खेडानिहालपुर में मेसेनरी स्टोन के 4, जालोर के रानीवाडा के कौडी चौपावतान, सिवाणा के कुशीप में मेसेनरी स्टोन के 9 व तवाब जसवंतपुरा में ग्रेनाइट की 8, जैसलमेर के पोखरण डिडानिया में मेसेनरी स्टोन के 32 व जैसलमेर के जाजिया सुल्तानपुरा में मारबल की 15 व भणियाना भाखरी में सेण्डस्टोन की 31, बीकानेर के कोलायत में बजरी के 2, अलवर के रामगढ़ के मांदला खुर्द-पूठी, कुगरावर, मांदला खुर्द गुर्जरपुर में मेसेनरी स्टोन के 6, धौलपुर के सरमथुरा मठ पिपरोध, जिलउआ, बाड़ी के सनौरा, नकसौदा, बसडी के नादनपुर, ताजपुरा में सैण्ड स्टोन के 75, राजसमंद के खमनोर के झालो की मदार, देवगढ़ की तनाजा, आंजना व जैमाखाड़ा में ग्रेनाइट की 10 व आमेट कांजीगुड़ा खुर्द में मेसेनरी स्टोन की 1, सिरोही में मोहब्बत नगर में मेसेनरी स्टोन की 30 व कूमा सिरोही में ग्रेनाइट की 3, अजमेर के नसीराबाद के न्यारा में क्वार्टज फेल्सपार की 2 व मसूदा नंदवाड़ा, नसीराबाद मिनयानी में ग्रेनाइट व मेसेनरी स्टोन की 11, चित्तोडगढ़ के गंगरार अमरपुरा में ग्रेनाइट व मेसेनरी स्टोन की 3 व भदेसर भालोट में मारबल की 6, सीकर के श्रीमाधोपुर किषनपुरा में मेसेनरी स्टोन की 1, बूंदी हिण्डोली चौहड़ा में मेसेनरी स्टोन की 11, तालेडा धनेश्वर, थड़ी बौर बूंदी गोलपुरा में सेण्डस्टोन की 107 व तालेडा लाम्बाखेड़ा में मेसेनरी स्टोन च सेण्डस्टोन की 50, बाडमेर में जूनी आटी हरियाला मगरा, दरुड़ा मेें मेसेनरी स्टोन की 29, व शिव कोटड़ा हाथीसिंह का गांव में सिलिका सेण्ड की 12, जोधपुर के लोहावट जालोड़ा ओसियां हरिपुरा बावडी कास्टी में सेण्डस्टोन की 53, प्रतापगढ़ के धरियावद लोहागढ में मारबल की 1, माण्डवी में मेसेनरी स्टोन की 2, पीपलखूंट कटारों का खेड़ा बी में मेसेनरी स्टोन की 1 और डूंगरपुर के घूघरा में मेसेनरी स्टोन की 3 व देवल घूघरा में मेसेनरी स्टोन की 3 खनन पट्टों की ई नीलामी की जाएगी।

निदेशक माइंस कुंज बिहारी पण्ड्या ने बताया कि विभाग द्वारा नीलामी का नोटिस 6 जून को जारी कर दिया गया है। विस्तृत जानकारी, शर्ते व निर्देश विभागीय वेबसाइट और भारत सरकार के पोर्टल पर देखी जा सकती है। उन्होंने कहा कि किसी भी प्लॉट के ऑक्शन में कम से कम दो बोलीदाता का होना जरुरी होगा। प्रतापगढ़ के कटारा का खेड़ बी और डूंगरपुर के देवल घूघरा के मेसेनरी स्टोन के प्लॉट डोमिसाईल शिड्यूल ट्राइब व्यक्तियों के लिए आरक्षित किए गए हैं। अतिरिक्त निदेशक महेश माथुर ने बताया कि ई नीलामी में भाग लेने वाले बोलीदाता को भारत सरकार के ई पोर्टल पर पंजीयन कराना होगा। उन्होंने बताया कि जो पहले से पंजीकृत है उन्हें दुबारा पंजीयन कराने की आवश्यकता नहीं होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here