केंद्र सरकार पर सीएम गहलोत का हमला, कहा- महंगाई बेकाबू, क्या यही अच्छे दिन

  • केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ जोधपुर कलेक्ट्रेट के बाहर धरना
  • हार-जीत चलती रहती है; इससे घबराने की जरूरत नहीं, इंदिरा गाँधी भी चुनाव हारी थीं

0
166
गहलोत

जोधपुर : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ शनिवार दोपहर डेढ़ बजे जोधपुर कलेक्ट्रेट के बाहर धरना दिया। सीएम गहलोत ने कहा कि बढ़ती महंगाई के कारण देश के हालात गंभीर होते जा रहे हैं। कोरोना के कारण लोगों की नौकरियां चली गईं। वेतन कम कर दिया गया। महंगाई की मार ने लोगों को तोड़कर रख दिया है।

सीएम गहलोत ने कहा कि चुनाव में हार-जीत चलती रहती है। इससे घबराने की जरूरत नहीं है। इंदिरा गांधी खुद चुनाव हार गई थीं। 1977 की हार के बावजूद कांग्रेस फिर से उठ खड़ी हुई।1977 से 80 तक विपक्ष में रहते हुए कांग्रेस ने कई आंदोलन चलाए। आज कांग्रेस में बड़े नेता अधिकांश उस दौर के हैं। मैं स्वयं भी उस दौर में आगे बढ़ा। ऐसे में बगैर किसी चिंता के जनता की सेवा में जुटे रहें।

गहलोत

केंद्र सरकार का वित्तीय प्रबंधन गड़बड़ाया हुआ

सीएम गहलोत ने कहा कि पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ाए जा रहे हैं। पांच राज्यों में चुनाव के कारण केन्द्र सरकार ने थोड़े दिन तक दामों में बढ़ोतरी को रोके रखा। चुनाव होते ही दाम बढ़ाना शुरू कर दिया। पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने का असर रोजमर्रा की चीजों पर भी होगा, उनके दाम भी बढ़ेंगे। ट्रांसपोर्ट के दाम बढ़ने का असर सभी चीजों पर पड़ता है। सीएम गहलोत ने कहा कि केन्द्र सरकार का वित्तीय प्रबंधन गड़बड़ाया हुआ है। इनमें संवेदना नहीं है। वर्ष 2014 में झूठ बोल ये लोग सत्ता में आए। कहा गया कि अच्छे दिन आएंगे। अब अच्छे दिन लोगों के सामने हैं। महंगाई ने प्रत्येक घर का बजट गड़बड़ा कर रख दिया है।

कांग्रेस व देश का डीएनए एक ही

सीएम गहलोत ने कहा कि कांग्रेस व देश का डीएनए एक ही है। संविधान की रक्षा करना प्रत्येक कांग्रेसी का कर्तव्य है। केन्द्र में बैठे लोग संविधान की धज्जियां उड़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने स्कूल छात्राओं को बीस हजार स्कूटी बांटी। अब पेट्रोल के दाम बढ़ने के कारण ये छात्राएं स्कूटी तक नहीं चला पा रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here