मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा ने किया नेता प्रतिपक्ष का समर्थन: बोले- यूपी से आए व्यक्ति ने कटारिया के चरित्र पर ऊंगली कैसे उठाई

0
451

जयपुर: सुखाड़िया यूनिवर्सिटी में हो रही गड़बड़ियों को लेकर अब कांग्रेस सरकार के नेता भी मैदान में उतर आए हैं। पहले जहां एक ओर बीजेपी और दूसरी विपक्षी पार्टियों के नेता यूनिवर्सिटी को लेकर सवाल उठा रहे थे। अब खुद मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा ने सवाल उठा दिए हैं। संयम लोढ़ा ने इस मामले में कुलपति के खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए बीजेपी नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया का समर्थन किया है। यहां तक की लोढ़ा ने कटारिया को बेदाग छवि वाला नेता तक कहा है।

विधानसभा में सोमवार को संयम लोढ़ा ने कहा कि मैने एक कुलपति का बयान पढ़ा कि गुलाबचंद कटारिया जमीनों पर कब्जे करवाने में शामिल हैं। राजस्थान में कांग्रेस का ऐसा कौनसा विधायक है जो गुलाबचंद कटारिया का सम्मान नहीं करता। आदर नहीं करता। वहीं, भाजपा का ऐसा कौनसा विधायक है जो अशोक गहलोत का सम्मान और आदर नहीं करता। इस तरह का बयान हम सब के लिए और इस सदन के लिए लज्जा की बात है।

सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए

लोढ़ा ने कहा कि जिस आदमी का इतना लम्बा जीवन पूरी तरह बेदाग रहा है। यूपी से आए हुए एक व्यक्ति ने इतनी हिम्मत कि वो राजस्थान की विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष के चरित्र पर उंगली उठाए। मैं समझता हूं उसी दिन सरकार को इनके खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए थी। उसी दिन कमेटी बनानी चाहिए थी। संयम लोढ़ा ने आरोप लगाया कि सुखाड़िया यूनिवर्सिटी के कारनामे किसी से छुपे नहीं हैं। इसमें मर्जी आए जैसे अपॉइनमेंट, मर्जी आए जैसे प्रमाण पत्र जारी हो रहे हैं। दायरे से बाहर जाकर खर्चा किया जा रहा।

अपॉइनटमेंट के लिए अथॉरिटी बने

संयम लोढ़ा ने प्रदेश के निजी और सरकारी यूनिवर्सिटी में शिक्षकों की भर्ती में होने वाली अनियमितताओं के लिए राजस्थान में यूनिवर्सिटी टीचर्स के अपॉइनटमेंट की अथॉरिटी बनाए जाने की मांग की है। संयम लोढ़ा ने पिछले तीन साल में प्रदेश की यूनिवर्सिटीज ने जनता के पैसे का कहां उपयोग किया है उसकी जांच कराने की मांग भी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here