गहलोत के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका के नाम पर OSD विवेक से ठगी की कोशिश

- शक होने से मामले से उठा पर्दा

0
206

जयपुर : प्रदेश में ब्यूरोक्रेट्स के फोटोज का यूज करके साइबर ठगी की कोशिश की जा रही है। साइबर ठगों ने वॉट्सऐप पर CM अशोक गहलोत के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका की फोटोज यूज कर प्रोफाइल बनाई। फिर ठगी के लिए IAS कुलदीप रांका के ही OSD विवेक जैन को वॉट्सऐप कॉल कर रुपयों की मांग कर डाली। OSD विवेक को शक होने से मामले से पर्दा उठा। सामने आया कि दो-तीन अफसरों को वॉट्सऐप कॉल कर रुपए मांगे गए हैं। स्पेशल ऑफेंसेस एंड साइबर क्राइम पुलिस ने शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

मामले में बरकत नगर किसान मार्ग निवासी विवेक जैन (50) ने रिपोर्ट दर्ज कराई है। विवेक जैन ने बताया कि रविवार को उनके मोबाइल पर मैसेज और वाट्सऐप कॉल आए थे। वॉट्सऐप कॉल करने वाले से बात हुई तो बोला- मैं कुलदीप रांका बोल रहा हूं। मैं जयपुर से बाहर हूं। मेरा मोबाइल काम नहीं कर रहा है। मुझे कुछ रुपयों की जरूरत है, तो जल्दी से ऑनलाइन ट्रांसफर करो। OSD विवेक के आवाज में चेंज के बारे में पूछने पर बोला कि मैं बाहर हूं, इसलिए ऐसी आवाज आ रही है, तुम जल्दी काम करो। मैं रिटर्न आकर लौटा दूंगा या किसी को भेज देता हूं।

वॉट्सऐप पर IAS कुलदीप रांका का फोटो लगा था, लेकिन आवाज को लेकर OSD को शक हुआ। अक्सर बातचीत होने के बाद आवाज में बदलाव होने पर उसने IAS कुलदीप रांका के मोबाइल नंबर पर कॉल किया। वॉट्सऐप कॉलर की जानकारी देने पर साइबर ठग के कॉल करने का पता चला। फ्रॉड ने 2-3 अफसरों को भी वॉट्सऐप कॉल कर रुपए मांगे, लेकिन ऑनलाइन रुपए ट्रांसफर करने से पहले ही सजगता के चलते ठगी होने से बच गई।

SHO सतीश चंद ने बताया कि CM के प्रमुख सचिव कुलदीप रांका के OSD विवेक जैन ने स्पेशल ऑफेंसेस एंड साइबर क्राइम पुलिस थाने में मंगलवार शाम रिपोर्ट दर्ज कराई है। जिन मोबाइल नंबरों का यूज कर वॉट्सऐप कॉल की गई है, उसे ट्रेस किया जा रहा है। हेड क्वार्टर से मोबाइल नंबरों की जानकारी मांगी गई है, जल्द ही प्रमुख सचिव का फोटा और नाम यूज कर रुपए मांगने वाले साइबर ठगों को पकड़ लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here