यूक्रेन पर अमेरिका-रूस में खिंची तलवारें : बाइडेन ने पुतिन से एक घंटा फोन पर की बात, समझाया और चेताया

0
329

वाशिंगटन : यूक्रेन-रूस के बीच जारी तनाव खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। विवाद शांत करने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से फोन पर बात की थी, जो बेनतीजा रही। बातचीत के दौरान बाइडेन ने पुतिन से युद्ध टालने की अपील की और चेतावनी भी दी कि अगर युद्ध हुआ तो रूस को करारा जवाब मिलेगा। वहीं, रूस ने अमेरिका को सनकी तक कह डाला। बातचीत के कुछ देर बाद ही अमेरिका ने यूक्रेन स्थित अपने दूतावास को खाली करने का निर्देश भेज दिया। सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि दोनों शीर्ष नेताओं के बीच हालात स्थिरता को लेकर बात नहीं बन पाई है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक 62 मिनट की बातचीत में बाइडेन ने पुतिन से कहा कि अगर रूस यूक्रेन पर हमला करता है, तो अमेरिका और उसके सहयोगी देश रूस को करारा जवाब देंगे। बाइडेन ने आगे कहा कि हमले से मानव जाति को भारी नुकसान होगा, इसलिए रूस युद्ध के बारे में न सोचे। वहीं, अमेरिका ने रूस को भरोसा दिया है कि वह यूक्रेन को लेकर कूटनीतिक बातचीत के लिए तैयार है।

रूस के जवाबों से संतुष्ट नहीं

बाइडेन और पुतिन की बातचीत के बाद अमेरिकी रक्षा मंत्रालय से जु़ड़े एक अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि रूस आक्रमण करेगा या नहीं, अभी इस पर कोई ठोस आश्वासन नहीं मिल पाया है। वहीं अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने यूक्रेन से अपने 160 प्रशिक्षु सैन्य अधिकारियों को वापस बुला लिया है, जबकि यूक्रेन में काम कर रहे 80 सैन्य अधिकारियों को वापस बुलाने की तैयारी में है।

इस फोन-कॉल के बाद रूसी संसद के टॉफ फॉरेन पॉलिसी एडवाइजर युरी युशाकोव ने कहा कि अमेरिका की सनक अपने चरम पर पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि अमेरिका ने तो रूस के यूक्रेन पर हमले की तारीख का भी ऐलान कर दिया है। मीडिया को हमारे बारे में गलत जानकारी क्यों दी गई, ये हमें समझ नहीं आ रहा है।

युशाकोव ने कहा कि अमेरिका-रूस के बीच सोमवार के लिए फोन-कॉल की प्लानिंग की गई थी, लेकिन अमेरिका ने इसे शनिवार को ही करने का अनुरोध किया। इतना कहने के बाद उन्होंने दोनों देशों के बीच फोन-कॉल को संतुलित और व्यापार जैसा बताया। उन्होंने यह भी कहा कि दोनों राष्ट्रपतियों ने सभी स्तरों पर बातचीत जारी रखने पर सहमति जताई है।

रूस ने ब्लैक सी में भी किया युद्धाभ्यास

यूक्रेन सीमा को घेरने के बाद रूस ने ब्लैक सी में युद्धाभ्यास शुरू कर दिया है। ब्लैक सी में रूस ने 30 सेट नेवी जहाज को उतारा है। रूस ने यूक्रेन को तीन तरफ से घेर लिया है और बॉर्डर पर सेना की तैनाती कर दी है। यूक्रेन बॉर्डर पर रूस ने सेना के 550 से ज्यादा टेंट भी लगाए हैं।

अब जर्मनी ने नागरिको के लिए जारी की चेतावनी

अमेरिका और ब्रिटेन के बाद जर्मनी ने भी अपने नागरिकों के लिए चेतावनी जारी की है। जर्मनी विदेश विभाग ने यूक्रेन में रह रहे अपने नागरिकों से जल्द वापस आने की अपील की है। इसके साथ ही जर्मनी ने अपने दूतावास के भी अधिकारियों को वापस आने के लिए कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here