पीएमसीएच में विश्व डायबिटीज डे सप्ताह का शुभारंभ

0
79
पीएमसीएच में विश्व डायबिटीज डे सप्ताह का शुभारंभ

उदयपुर। आज पेसिफिक मेडिकल काॅलेज एण्ड हाॅस्पिटल के जनरल मेडिसिन विभाग एवं तिरुपति कॉलेज ऑफ नर्सिंग के संयुक्त तत्वाधान में विश्व डायबिटीज डे सप्ताह का शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम संयोजक डा जगदीश विश्नोई ने बताया कि इस जागरूकता अभियान का शुभारम्भ पीएमसीएच के चेयरमैन राहुल अग्रवाल,सीईओ शरद कोठारी,पीएमयू के वाइस चांसलर डाॅ.ए.पी. गुप्ता,पीएमसीएच के प्रिंसिपल एवं कन्ट्रोलर डाॅ.एम.एम.मंगल मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ.के.आर.शर्मा एवं फैकल्टी ऑफ नर्सिंग के डीन डाॅ.के.सी.यादव ने दीप प्रज्वलन करके किया।

पीएमसीएच के चेयरमैन राहुल अग्रवाल ने इस मुहिम की सराहना करते हुए कहा कि पूरे सप्ताह शारीरिक शिक्षा के माध्यम से डायबिटीज के कारक,जोखिम कारक,लक्षण एवम रोकथाम के बारे में पूरे शहर में अवगत करवाया जाएगा। समारोह के मुख्य अतिथि डाॅ.बी.एस.बंब ने समारोह में उपस्थित छात्र छात्राओं को डायबिटीज रोग के बारे में विस्तृत जानकारी मुहैया करवाते हुए इस बीमारी से बचाव में मेडिकल प्रोफेशनल की जिम्मेदारी पर जोर दिया। पीएमयू के वाइस चांसलर डाॅ.ए.पी. गुप्ता,पने बच्चो में पाई जा रही इन्सुलिन डिपेंडेंट डायबिटीज पर अपने विचार रखे।

इस अवसर पर पीएमसीएच के प्रिंसिपल एवं कन्ट्रोलर डाॅ.एम.एम.मंगल ने कहा की इस रोग को सभी मेडिकल प्रोफेशनल को गंभीरता से लेना चाहिए क्युकी कई मरीजों को इसकी वजह से अपनी जान जोखिम में डालना पड़ती है। फैकल्टी ऑफ नर्सिंग के डीन डाॅ.के.सी.यादव ने डायबिटीज को सभी रोगों की जड़ बताते हुए इसके बचाव के लिए प्रयास पर जोर देते हुए कहा की वर्तमान परिपेक्ष्य में लोगो के खान पान दिनचर्या के कारण यह रोग आमजन में तेजी से व्याप्त है..इसके लिए जनजागरण अभियानों के माध्यम से आमजन को इसके जोखिम कारकों,जीवन शैली में बदलाव,योग व्यायाम एवम उचित आहार के माध्यम से रोका एवम कंट्रोल किया जा सकता है।

कार्यक्रम के दौरान मेडिसिन विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ.के.आर.शर्मा ने आगामी दिनों यूनिवर्सिटी द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों के बारे मे बताते हुए समारोह में पधारे सभी गणमान्य जनों का धन्यवाद अर्पित किया। इस अवसर पर हाॅस्पिटल के अघीक्षक डाॅ.आर.के.सिंह, मस्तिष्क रोग विशेषज्ञ डाॅ.अतुलाभ वाजपेयी,डाॅ नरेंद्रमल,स्त्री रोग विभाग की डाॅ.राजरानी शर्मा, सर्जरी विभाग के डाॅ.एच.पी. गुप्ता सहित सभी वरिष्ठ चिकित्सक उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here