व्यापारियों के विरोध के बाद जयपुर में नाइट बाजार का प्रोग्राम कैंसिल

- 27-28 अगस्त को ट्रायल मोड पर चलाया जाना था

0
260
नाइट बाजार

जयपुर : इंदौर शहर की तर्ज पर जयपुर में भी नाइट बाजार शुरू करने की तैयारियों को विराम लग गया। इस बाजार के शुरू होने से पहले ही यहां के व्यापारियों ने अब इसका विरोध शुरू कर दिया। आज चौड़ा रास्ता के व्यापारियों ने धरना दिया और अपनी-अपनी दुकानें बंद रखी। इस विरोध प्रदर्शन के बाद नगर निगम हैरिटेज ने 27 व 28 अगस्त को प्रस्तावित दो दिन का नाइट बाजार प्रोग्राम रद्द कर दिया। नोडल एजेंसी जयपुर नगर निगम हेरिटेज और स्मार्ट सिटी जयपुर की ओर से ये बाजार लगवाया जाना प्रस्तावित था। इस बाजार में तीन कंपनियाें को अपना डेमो देना था। इन कंपनियों में से जिस कंपनी का कॉन्सेप्ट अच्छा लगता उसे आगे काम दिया जाता। उम्मीद थी कि नवरात्रा या दशहरा पर्व से इस बाजार को नियमित रूप से लगाया जाए, लेकिन इस कार्यक्रम को अब रोकना पड़ा है।

चौड़ा रास्ता में शुरू होने वाले इस नाइट बाजार के विरोध में स्थानीय चौड़ा रास्ता के व्यापारी आज सड़क पर उतर गए। व्यापारियों ने विरोध स्वरूप अपनी-अपनी दुकानें दिन में बंद रखी। इस दौरान व्यापारियों ने धरना भी दिया। व्यापारियों का कहना है कि नाइट मार्केट के चलते उनके बाजार 22 दिन तक बंद रहेंगे, ट्रेफिक का संचालन भी बंद रहेगा। उन्होंने इस नाइट मार्केट को कहीं दूसरे स्थान पर संचालित करने की मांग की। व्यापारियों के विरोध की सूचना पर किशनपोल से विधायक अमीन कागजी भी मौके पर पहुंचे, जहां उन्होंने व्यापारियों से बातचीत की और आश्वासन दिया कि वे इस नाइट मार्केट को नहीं लगने देंगे। विधायक के आश्वासन के बाद व्यापारी काम पर लौटे और अपने-अपने प्रतिष्ठान खोले।

सप्ताह में दो दिन लगना था बाजार

ये बाजार सप्ताह में दो दिन लगाया जाना प्रस्तावित था। इसके लिए टेण्डर प्रक्रिया भी चल रही है। शनिवार और रविवार को लगाए जाने वाले इस बाजार को शाम 7 बजे से रात 2 बजे तक संचालित किया जाने का कार्यक्रम था। 2 बजे बाद पूरे बाजार में लगे कियोस्क को हटा दिया जाना था, ताकि सुबह 8 बजे चौड़ा रास्ता में परमानेंट व्यापारी अपना व्यापार कर सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here