ब्रांडेड कंपनियों के नाम पर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दो महिला समेत 8 लोग गिरफ्तार

- एक ही IMEI नंबर से चला रहे थे 90 मोबाइल

0
307

जयपुर : पुलिस ने आज एक शातिर गैंग को गिरफ्तार कर उनके पास से 90 से ज्यादा मोबाइल फोन बरामद किए। हैरानी की बात यह है कि इन सभी 90 मोबाइल का आईएमईआई नम्बर एक ही है। जबकि एक फोन का एक आईएमईआई नम्बर होता है। यह गैंग एक ही आईएमईआई नंबर को कॉपी कर कई फोन असेंबल कर रही थी।

मामले का खुलासा करते हुए डीसीपी नोर्थ पारिस देशमुख ने बताया कि संजय सर्किल क्षेत्र में कुछ दिनों से अवैध तरीके से मोबाइल फोन बिकने की सूचनाएं मिल रही थी। सबसे पहले एक महिला और पुरुष को पकड़ा गया। फिर एक-एककर आठ लोगों को अब तक पकड़ा जा चुका है। इनके पास से 90 से ज्यादा स्मार्ट फोन बरामद किए गए हैं। सभी का आईएमईआई नंबर एक ही है। साथ ही फर्जी रसीदे, बिल बुक और अन्य सामान भी बरामद किया गया है। संजय सर्किल थाना पुलिस ने 90 से ज्यादा मोबाइल फोन बरामद किए हैं। दो महिलाओं समेत गैंग के आठ लोग पकड़े गए हैं।

फर्जी बिल और आधार कार्ड दिखा कर करते ठगी

बदमाश भीड़भाड़ या बाजार में जाकर लोगों से मदद करने के लिए कहते है। लोगों को फोन की कीमत 40 हजार रुपए तक बताते थे। फिर 10 से 15 हजार में बेच देते थे। उन्हें कहते थे कि मजबूरी के कारण मोबाइल बेचना पड़ रहा है। विश्वास में लेने के लिए फर्जी बिल और खुद का आधार कार्ड दिखा देते थे। लोग भी विश्वास कर मोबाइल खरीद लेते थे। पीड़ित को फोन के फर्जी होने का बता तब चलता जब मोबाइल को वह कम्पनी या दुकान पर ले जाता। इस पूरे घटनाक्रम के बाद जब कड़ी से कड़ी जोड़ी गई तो पता चला कि गैंग के सदस्यों का दिल्ली और मुंबई भी आना जाना है। वहां से भी कुछ जानकारियां सामने आई हैं, जिन पर काम किया जा रहा है। गौरतलब है कि राजस्थान में अपने तरह का यह पहला ही केस है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here