अवैध खनन गतिविधियों के विरुद्ध समूचे प्रदेश में कार्यवाही जारी, चार दिन 190 प्रकरण, 50 लाख का जुर्माना वसूल, 180 वाहन मशीनरी संबंधित थानों में जब्त – एसीएस डॉ. अग्रवाल

- चार दिनों में 60 एफआईआर दर्ज, उदयपुर में दो गिरफ्तार

0
101
खनन

जयपुर। अवैध खनन, परिवहन और भण्डारण के विरुद्ध समूचे प्रदेश में कार्यवाही करते हुए पिछले चार दिनों में करीब 190 प्रकरण दर्ज करते हुए 180 वाहन-मशीनरी की जब्ती के साथ ही 50 लाख रुपए से अधिक का जुर्माना वसूला गया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव माइंस, पेट्रोलियम एवं जलदाय डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया कि जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और माइंस विभाग द्वारा समन्वय बनाते हुए समूचे प्रदेश में अवैध माइनिंग गतिविधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जा रही है। उन्होंने बताया कि माइंस विभाग के सभी अधिकारियोें को निर्देशित किया गया है कि वे स्थानीय स्तर पर समन्वय बनाते हुए अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ कार्यवाही में तेजी लाएं। प्रदेश में पिछले चार दिनों में लगभग 60 एफआईआर संबंधित थानों में दर्ज कराई जा चुकी है। उदयपुर में दो लोगों की गिरफ्तारी भी हुई है।

खनन

एसीएस माइंस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश में सर्वाधिक 60 प्रकरण उदयपुर वृत में अतिरिक्त निदेशक महेश माथुर के निर्देशन में दर्ज किए गए है। जयपुर में 53 प्रकरण दर्ज हुए है। उन्होंने बताया कि अतिरिक्त निदेशक नरेन्द्र कोठ्यारी को इस अभियान की मोनेटरिंग के लिए राज्य स्तरीय प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। समूचे प्रदेश में अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ अभियान चलाकर समन्वित कार्यवाही की जा रही है। महेश माथुर ने बताया कि उदयपुर वृत के 60 प्रकरणोें मेें से एसई उदयपुर द्वारा 18 प्रकरण दर्ज कर 9 एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यहां 15 ट्रेक्टर ट्राली, 3 ट्रोला डंपर, एक एचईएमएममशीन सहित 21 वाहन जब्त किए गये हैं। इसी तरह से राजसमंद में 32 प्रकरणों में 30 एफआईआर व 32 वाहन मशीनरी की जब्ती की जा चुकी है। भीलवाडा में 10 प्रकरणों में 8 एफआईआर और वाहन मशीनरी जब्त की गई है।

खनन

अतिरिक्त निदेशक बीएस सोढ़ा के निर्देशन में जयपुर वृत जयपुर एसएमई प्रताप मीणा व अजमेर एसएमई जय गुरुबख्सानी के नेतृत्व में कार्यवाही की जा रही है। अतिरिक्त निदेशक जयपुर बीएस सोढ़ा के क्षेत्र में अजमेर, नागौर व पाली में जय गुरुबख्सानी व जयपुर, अलवर, सीकर, झुन्झुनू, टोंक और दौसा में एसएमई प्रताप मीणा द्वारा की गई कार्यवाही मेें 53 प्रकरण दर्ज कर 62 वाहन मशीनरी आदि की जब्ती की गई है। इसके साथ ही 20 लाख रुपए से अधिक जुर्माना वसूला जा चुका है। अतिरिक्त निदेशक कोटा महावीर मीणा के निर्देशन में एसएमई कोटा अविनाश कुलदीप व भरतपुर एमई के नेतृत्व में कोटा, बूंदी, झालावाड़, बारां, भरतपुर, धौलपुर, करौली और सवाई माधोपुर में 30 प्रकरण दर्ज करने के साथ ही 31 वाहन मशीनरी जब्त की गई है। वृत में 15 लाख से अधिक का जुर्माना भी वसूला गया है।

जोधपुर में एसएमई धर्मेन्द लुहार व टीम द्वारा 30 प्रकरणों में 3 एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही 25 वाहन मशीनरी जब्त की गई है। जोधपुर में जोधपुर, पाली, सिरोही, बाड़मेर, जालौर में कार्यवाही की गई। बीकानेर वुत में एसएमई भीम सिंह के नेतृत्व में एमइ्र आरएस बलारा व अन्य अधिकारियों की टीम ने बीकानेर, जैसलमेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ व चुरु में 16 प्रकरण दर्ज किए हैं। 11 वाहनों की जब्ती के साथ ही 8 लाख रु. से अधिक का जुर्माना वसूला गया है।
निदेशक माइंस श्री कुंज बिहारी पाण्डया द्वारा समूची कार्यवाही पर नजर रखते हुए अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here