कैबिनेट की बैठक: ऑक्सीजन और दवाओं की किल्लत दूर करने पर होगा मंथन

cm 2
  • 18+ के वैक्सीनेशन पर फैसला संभव

जयपुर। कोरोना के मामले लगातार बढ़ने के साथ अब प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन और रेमडेसिवर इंजेक्शन की कमी हो रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना से पैदा हुए हालात पर चर्चा के लिए शाम 5 बजे सीएम निवास पर कैबिनेट की बैठक बुलाई है। कैबिनेट की बैठक में प्रदेश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने पर चर्चा होगी। ऑक्सीजन सप्लाई के साथ रेमडेसिवर और दूसरी दवाओं की कमी दूर करने के उपायों पर चर्चा मुख्य एजेंडा है। 18 साल से ऊपर वालों के वैक्सीनेशन पर भी फैसले की संभावना है।

अस्पतालों में ऑक्सीजन किल्लत दूर करने के लिए सरकार औद्योगिक इकाइयों से आक्सीजन अधिग्रहित करने पर विचार कर सकती है। अभी राजस्थान में रोजाना 250 टन लिक्विड ऑक्सीजन की जरूरत है और केंद्र सरकार से 160 टन का ही आवंटन हुआ है। इस अंतर को मिटाने के लिए राज्य सरकार ने केंद्र सरकार से मांग की है।

अभी तक राजस्थान सरकार के फैसले का इंतजार
18 साल से ऊपर वालों के कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर भी कैबिनेट में चर्चा होगी। 18 से ऊपर वालों के वैक्सीनेशन में केंद्र सरकार ने राज्यों को अपने स्तर कंपनियों से सीधे वैक्सीन खरीदने को कहा है। कैबिनेट में इस पर चर्चा के बाद फैसला हो सकता है। 18 साल से ऊपर वालों के वैक्सीनेशन पर गहलोत सरकार ने अभी रुख साफ नहीं किया है, अभी तक केवल राजनीतिक बयानबाजी ही चल रही है। यूपी, एमपी और छत्तीसगढ़ फ्री वैक्सीनेशन की घोषणा कर चुके हैं अब राजस्थान सरकार के फैसले का इंतजार है। परसों से वैक्सीनेशन के लिए कोविन एप पर रजिस्ट्रेशन शुरू हो रहे हैं, ऐसे में अब सरकार के पास जल्द फैसला करने के अलावा ज्यादा विकल्प नहीं बचे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *