Mount Trishul Avalanche: उत्तराखंड के माउंट त्रिशूल पर हिमस्खलन की घटना में चार नौसैनिक हुए शहीद

- रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने जताया शोक

0
484
Mount Trishul Avalanche: उत्तराखंड के माउंट त्रिशूल पर हिमस्खलन की घटना में चार नौसैनिक हुए शहीद

उत्तराखंड: माउंट त्रिशूल पर हिमस्खलन की चपेट में आए नौसेना के चार अधिकारियों की मौत हो गई है। चारों अधिकारियों के पार्थिव शरीर को 24 घंटे से भी ज्यादा लंबे चले सर्च मिशन के बाद बर्फ से ढूंढ निकाले गए। शुक्रवार को आए बर्फीले तूफान में अभी भी नौसेना के अधिकारी और एक शेरपा लापता हैं।

घटना पर शोक जताते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, “त्रिशूल पर्वत पर भारतीय नौसेना के पर्वतारोहण अभियान का हिस्सा रहे चार नौसेना कर्मियों की दुखद मौत से गहरा दुख हुआ। इस त्रासदी में राष्ट्र ने न केवल अनमोल युवा बल्कि साहसी सैनिकों को भी खोया है। ”

भारतीय नौसेना के मुताबिक, जिन अधिकारियों के शवों को ढूंढ निकाला गया हैं, उनमें लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीकांत यादव, लेफ्टिनेंट कमांडर योगेश तिवारी, लेफ्टिनेंट कमांडर अनंत कुकरेती और मास्टर चीफ पैटी ऑफिसर (एमसीपीओ) हरी ओम शामिल हैं।

बता दें कि शुक्रवार को उत्तराखंड के कुमाउं क्षेत्र की माउंट त्रिशूल पर आए एवलांच में नौसेना के पांच अधिकारी और एक शेरपा (गाइड और हेल्पर) लापता हो गए थे। उस वक्त वे नौसेना के पांच अन्य अधिकारियों के साथ माउंट त्रिशूल पर पर्वतरोहण के लिए गए थे। नौसेना के पांच अधिकारी तो सुरक्षित बच गए थे लेकिन पांच अधिकारी और एक शेरपा फंस गए थे। चपेट में आने के तुरंत बाद ही थलसेना, वायुसेना और उत्तराखंड के स्टेट डिजास्टर रेस्कयू फोर्स (एसडीआरएफ) ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया था।

पिछले महीने यानि 3 सितंबर को नौसेना के 20 अधिकारियों और नौसैनिकों ने मुंबई से पर्वतरोहण की शुरूआत की थी। माउंट त्रिशूल की चढ़ाई के आखिरी दौर में सिर्फ 10 अधिकारी ही पहुंच पाए थे। नौसेना के मुताबिक, लापता अधिकारी और शेरपा के लिए सर्च ऑपरेशन अभी जारी रहेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here