Coronavirus News : आईआईटी रुड़की में 60 छात्र मिले कोरोना पॉजिटिव

देश में कोरोना की दूसरी लहर घातक साबित हो रही है. रोजाना कोरोना के मामलों में तेजी से उछाल हो रहा है. स्कूल और कॉलेजों में भी अब कोरोना के मामले आने लगे हैं.

0
498

रुड़की : देश भर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देश के कई राज्यों में कोरोना पॉजिटिवों की संख्या में लगातार हो रही बढ़ोतरी से प्रदेश की सरकारों की परेशानी बढ़ गयी है. इन सबके बीच, आईआईटी रुड़की में 60 छात्रों की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाए जाने के बाद पांच हॉस्टल को सील कर दिया गया है. आईआईटी रुड़की के मीडिया सेल प्रभारी सोनिका श्रीवास्तव ने इस बात की पुष्टी की है.

जानकारी के मुताबिक, इन सभी संक्रमित छात्रों में से चार लोगों की हालत गंभीर बतायी जा रही है. वहीं, छात्रों के कैंपस से बाहर जाने पर फिलहाल रोक लगा दी गई है. मामले की सूचना मिलने के बाद से ही जिला प्रशासन यहां की स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है. इससे पहले रुड़की में एक अप्रैल को सबसे ज्यादा 43 संक्रमित मिले थे. रुड़की में कोरोना के केस में लगातार हो रही बढ़ोतरी के बाद स्वास्थ्य विभाग सतर्क हो गया है. स्वास्थ्य विभाग की टीम पॉजिटिव लोगों से संपर्क कर रही है. इसके बाद संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों की जांच की जाएगी.

वहीं इस बार आईआईटी के एक हॉस्टल को कोविड केयर सेंटर बनाया गया है. आईआईटी परिसर में कोविड के मरीजों को संख्या बढ़ने से कॉलेज प्रशासन भी छात्रों को सावधानी बरतने व कोविड की गाइड लाइन पालन करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही बहार से आने वाले छात्रों को परिसर में प्रवेश के बाद क्वारन्टीन भी किया जा रहा है.

आईआईटी मीडिया सेल प्रभारी सोनिका श्रीवास्तव ने बताया कि सरोजिनी भवन, गोविंद भवन, कोटले भवन, कस्तूरबा भवन, विज्ञान कुंज को सील किया गया है. साथ ही कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सभी छात्रों को एहतियात बरतने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि पिछले दिनों चार छात्रों की तबियत अधिक खराब होने के चलते उन्हें हरिद्वार मेला अस्पताल भेजा गया था. वो अब ठीक होकर आईआईटी में आ गये हैं. फिलहाल छात्रों को अपनी कोविड की निगेटिव रिपोर्ट लेकर परिसर में एंट्री दे रहे हैं. सोनिका श्रीवास्तव ने बताया कि स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है. साथ जांच और टीकारण का अभियान में चालाया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here