ED का जयपुर में बड़ा एक्शन:बैंक फ्रॉड मामले में 57 करोड़ की संपत्ति अटैच

0
396
ED का जयपुर में बड़ा एक्शन:बैंक फ्रॉड मामले में 57 करोड़ की संपत्ति अटैच

जयपुर: सिंडिकेट बैंक धोखाधड़ी मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आरोपियों की 56.81 करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच की है। ED ने सिंडिकेट बैंक से कर्ज धोखाधड़ी में शामिल उदयपुर के CA भारत बम, जयपुर के बिल्डर शंकर लाल खंडेलवाल और उनके अन्य सहयोगियों की कृषि भूमि, प्लॉट, दुकानों, ऑफिस कैंपस, फ्लैट्स के अलावा बैंक अकाउंट भी अटैच किए हैं। ED ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत धोखाधड़ी में शामिल लोगों की चल-अचल संपत्ति को अस्थायी रूप स अटैच कर दिया है। धोखाधड़ी में शामिल लोगों की बेनामी प्रॉपर्टी भी सामने आ चुकी है।

केनरा बैंक में मर्ज हो चुकी सिंडिकेट बैंक से अरबों के कर्ज घोटाले के मामले में CBI ने FIR दर्ज की थी। CBI जांच के आधार पर ही ED ने मनी लॉन्ड्रिंग की जांच शुरू की। जांच के दौरान पता चला कि 2011 से 2016 के बीच उदयपुर के चार्टड अकाउंटेंट मास्टर माइंड भारत बम ने बैंक अधिकारियों की मिलीभगत से तत्कालीन सिंडिकेट बैंक से 1267.79 करोड़ रुपए का कर्ज लिया। उदयपुर के भारत बम ने अपने परिजनों के नाम से पांच साल में अलग-अलग करके 1267 करोड़ के कर्ज लिए। कर्ज का यह पैसा भारत बम की शैल कंपनियों में ट्रांसफर कर दिए गए। पांच साल में अलग अलग समय पर लिए गए ये कर्ज कभी नहीं चुकाए गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here