REET पेपर लीक मामले की सीबीआई जांच की मांग को लेकर बीजेपी युवा मोर्चा का प्रदर्शन, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

- सतीश पूनियां-हिमांशु शर्मा समेत कई नेताओं को हिरासत में लिया

0
796
REET

जयपुर : REET पेपर लीक मामले की सीबीआई जांच की मांग पर जयपुर में प्रदर्शन कर रहे बीजेपी युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया। जयपुर में मोर्चा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने उस वक्त लाठियां बरसाईं, जब पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां के नेतृत्व में मोर्चा कार्यकर्ताओं ने बीजेपी मुख्यालय से सीएम निवास घेराव के लिए कूच कर दिया। कार्यकर्ताओं को पुलिस ने सिविल लाइंस फाटक से पहले ही रोक दिया।

आंदोलनकारियों के बेरिकेट्स तोड़ने पर पुलिस ने लाठियां मारकर कार्यकर्ताओं को खदेड़ दिया। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, युवा मोर्चा अध्यक्ष हिमांशु शर्मा समेत कई युवा मोर्चा कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस दौरान कई कार्यकर्ताओं को चोटें भी आईं। सतीश पुनिया को विद्याधर नगर थाने पर नज़रबंद कर दिया गया है।

REET

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भी सरकार पेपर लीक नहीं मान रही

REET पेपर लीक मामले के तार राजीव गांधी स्टडी सर्किल से जुड़ने के बाद बीजेपी इस मुद्दे पर सरकार पर और ज्यादा हमलावर हो गई है।बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस सरकार की कमजोर शासन व्यवस्था के कारण बार-बार युवाओं के सपनों पर पानी फिर रहा है। REET से पहले कॉन्स्टेबल, लाइब्रेरियन, जेईएन जैसी परीक्षाओं के भी पेपर लीक हुए थे, लेकिन ज्यादातर मामलों में कार्रवाई नहीं की गई।

REET पेपर लीक मामले में 36 आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भी सरकार पेपर लीक नहीं मान रही। इसलिए इस षड़यंत्र में सरकार के प्रमुख लोगों के शामिल होने से इनकार नहीं किया जा सकता है। मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए बीजेपी युवा मोर्चा ने प्रदर्शन किया। तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। राजस्थान की जनता और लाखों बेरोजगार कांग्रेस की इस सरकार को माफ नहीं करेंगे। आगामी विधानसभा सत्र में भी बीजेपी सरकार से जवाब मांगेगी।

 

सरकार गांधीवादी नहीं है, केवल दिखावा करती

बीजेपी युवा मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष हिमांशु शर्मा ने बताया कि REET में धांधली और पेपर लीक की सीबीआई से जांच की मांग लगातार की जा रही है। लेकिन सरकार के कानों जूं नहीं रेंग रही है। अलग-अलग सम्भाग मुख्यालयों और जिला मुख्यालयों पर धरने प्रदर्शन किए जा रहे हैं। REET पेपर लीक की अब तक की जांच से स्पष्ट है कि इस भ्रष्टाचार में बड़े लोगों की मिलीभगत है। लेकिन केवल दो-तीन प्यादों की गिरफ्तारी कर भ्रष्टाचार में डूबी सरकार असली गुनाहगार को बचाने की कोशिश कर रही है।

 

कांग्रेस सरकार ने भाजयुमो के विरोध प्रदर्शन से दबाव में आकर कुछ लोगो की गिरफ्तारी की है। सरकार सीबीआई की जांच नहीं कराके एसओजी की जांच का झूठा खेल कर रही है। हिमांशु शर्मा ने कहा 26 लाख युवाओं की आवाज उठाने से प्रदेश की कांग्रेस सरकार और पुलिस हमें रोक नहीं सकती है। युवाओं पर लाठीचार्ज करना बताता है कि सरकार गांधीवादी नहीं है, केवल दिखावा करती है। बीजेपी का आंदोलन रुकने वाला नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here