अलवर कांड: नाबालिक के पिता बोले – बेटी इशारे से बता रही हैं पर पुलिस- प्रशासन प्रलोभन की बात कर मामले को लगा है दबाने में

0
319
अलवर कांड: नाबालिक के पिता बोले - बेटी इशारे से बता रही हैं पर पुलिस- प्रशासन प्रलोभन की बात कर मामले को लगा है दबाने में

अलवर: अलवर के तिजारा फाटक फ्लाई ओवर पर लहूलुहान मिली मूकबधिर नाबालिग से गैंगरेप मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। पीड़ित के पिता ने सोमवार को पुलिस पर ही गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा- बेटी इशारों में बता रही है कि उसे पुलिया पर दो युवकों ने लाकर पटका था। अब तक पुलिस की जांच पर उनको भरोसा नहीं है। पुलिस प्रशासन उसके परिवार को दूसरे लाभ देकर मामले को दबाए रखना चाहता है। मैं न्याय की मांग करता हूं। नाबालिग के पिता के अनुसार, बेटी से रेप हुआ है। तभी तो वह इशारों में बता रही है कि दो युवकों ने उसे पुलिया पर लाकर पटका है। इससे ज्यादा व कुछ नहीं बता पा रही है। अधिक पूछने पर रोने लग जाती है। पिता ने अब तक की पुलिस जांच पर सवाल खड़े कर दिए हैं। हालांकि पुलिस जांच पहले से ही स्पष्ट नहीं थी। पहले दिन एसपी ने रेप की आशंका जताई थी। 3 दिन बाद मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर इनकार कर दिया था। अब नाबालिग के पिता ही मीडिया को यह सब बताने आ गए। नाबालिग के पिता का भी यही कहना है कि एक्सीडेंट होता तो उसे कहीं दूसरी जगह भी चोट आती।

हर पल पुलिस साथ रही

नाबालिग के पिता ने अलवर शहर में आकर मीडिया के सामने यह सब बताया। उन्होंने बताया कि जयपुर में बेटी का इलाज चल रहा है। वहां 24 घंटे पुलिस का पहरा है। अब तो डर भी लगने लगा है। रात के समय भी पुलिस मौजूद रहती है।

रिपोर्ट हमें नहीं बताई

बालिका के पिता ने कहा कि उनको एफएसएल रिपोर्ट के बारे में भी कोई जानकारी नहीं दी गई। बालिका की सलवार पर सीमन मिलने की एफएसएल रिपाेर्ट आने के बाद पुलिस ने घर से कुछ पुराने कपडाें काे भी जब्त किया है। ये पुराने कपड़े उनसे सामान्य रूप से मांगे थे कि बालिका का ऑपरेशन हुआ है। इसलिए जरूरत है। बाद में बेटी के लिए नए कपडे खरीद कर दिए। पिता का कहना है कि उसके खून का भी सैंपल लिया गया और खाली कागजाताें पर हस्ताक्षर करा लिए। सलवार सहित अन्य पकड़ों की एफएसएल रिपोर्ट के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here