‘बाहुबली और आरआरआर’ के लेखक विजयेंद्र प्रसाद, पीटी उषा समेत चार का राज्यसभा में मनोनयन, PM मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई

0
130
'बाहुबली और आरआरआर' के लेखक विजयेंद्र प्रसाद, पीटी उषा समेत चार का राज्यसभा में मनोनयन, PM मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा के लिए मनोनीत किए जाने पर पीटी उषा, वी. विजयेंद्र प्रसाद गारू, वीरेंद्र हेगड़े और इलैया राजा को बधाई दी है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

प्रधानमंत्री मोदी ने पीटी उषा के बारे में ट्वीट करते हुए कहा कि पीटी उषा को खेलों में उनकी उपलब्धियों को व्यापक रूप से जाना जाता है, लेकिन पिछले कई वर्षों में नवोदित एथलीटों का मार्गदर्शन करने के लिए उनका काम उतना ही सराहनीय है। उन्हें राज्यसभा के लिए मनोनीत किए जाने पर बधाई।

प्रधानमंत्री मोदी ने इलैयाराजा के बारे में बताते हुए लिखा कि उन्होंने पीढ़ी दर पीढ़ी लोगों को मंत्रमुग्ध किया है। उनकी रचनाएं अनेक भावनाओं को खूबसूरती से दर्शाती हैं। वह एक विनम्र पृष्ठभूमि से उठे और बहुत कुछ हासिल किया। खुशी है कि उन्हें राज्यसभा के लिए मनोनीत किया गया है। बता दे कि इलैया राजा तमिल फिल्मों के मशहूर संगीतकार हैं। उन्होंने अब तक 1400 फिल्मों के सात हजार गाने संगीतबद्ध किए हैं। तमिल के साथ-साथ तेलुगु फिल्मों में भी उन्होंने संगीत दिया है। इलैया राजा को पांच नेशनल फिल्म अवॉर्ड मिल चुके हैं, 2010 में उन्हें पद्मभूषण और 2018 में पद्म विभूषण सम्मान से भी नवाजा गया।

पीएम मोदी ने विजयेंद्र प्रसाद गारू के बारे में बोले कि वो दशकों से रचनात्मक दुनिया से जुड़े हैं। उनकी रचनाएं भारत की गौरवशाली संस्कृति को प्रदर्शित करती हैं और विश्व स्तर पर अपनी पहचान बना चुकी हैं। उन्हें राज्यसभा के लिए मनोनीत किए जाने पर बधाई। बता दे कि विजयेंद्र प्रसाद गारू ने बाहुबली, आरआरआर, बजरंगी भाईजान, राउडी राठौड़, मणिकर्णिका- द क्वीन ऑफ झांसी और मार्शल जैसी फिल्मों की कहानी लिखी है। 2016 में बजरंगी भाईजान के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ कहानी के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला था।

वीरेंद्र हेगड़े के बारे में जानकारी देते हुए पीएम मोदी ने बताया कि वह सामुदायिक सेवा में सबसे आगे हैं। मुझे धर्मस्थल मंदिर में प्रार्थना करने और स्वास्थ्य, शिक्षा और संस्कृति के क्षेत्र में उनके द्वारा किए जा रहे महान कार्यों को देखने का अवसर मिला है। वह निश्चित रूप से संसदीय कार्यवाही को समृद्ध करेंगे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here