ED Action : शिक्षक भर्ती घोटाले में ममता सरकार में मंत्री पार्थ चटर्जी गिरफ्तार, करीबी अर्पिता भी हिरासत में

0
186
ED

नई दिल्ली : पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी कैबिनेट में कद्दावर मंत्री पार्थ चटर्जी को ED गिरफ्तार कर लिया है। करीब 24 घंटे की पूछताछ के बाद ED ने ये कार्रवाई की है। पार्थ के अलावा उनकी करीबी अर्पिता को भी हिरासत में ले लिया है। पार्थ के घर के बाहर CRPF को तैनात किया गया है। ED चटर्जी को कोलकाता ऑफिस ले गई है।

पश्चिम बंगाल में 2014 और 2016 में शिक्षकों की भर्ती हुई थी। नियुक्ति में धांधली का आरोप लगाते हुए दो कैंडिडेट्स ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई थी। हाईकोर्ट ने इस मामले में CBI जांच के आदेश दिए थे। कोर्ट ने इसमें मनी लॉन्ड्रिंग की आशंका जताते हुए CBI जांच के आदेश दिए थे। CBI ने चटर्जी से 25 अप्रैल और 18 मई को पूछताछ की थी, क्योंकि वे 2014 से लेकर 2021 तक राज्य के शिक्षा मंत्री थे। पूछताछ के बाद CBI ने इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग की शिकायत दर्ज कराई। जांच एजेंसी की शिकायत के बाद मामला ED के हाथ में चला गया।

ED

अर्पिता मुखर्जी के घर मिले 20 करोड़

शुक्रवार को ED की कई टीमों ने एक साथ पार्थ समेत उनके करीबियों के यहां छापेमारी की। सूत्रों के मुताबिक छापेमारी के दौरान ED की टीम को अर्पिता मुखर्जी के बारे में जानकारी मिली थी। रेड के दौरान अर्पिता के घर से ED को 20 करोड़ कैश मिले थे। अर्पिता के घर से कैश बरामद होने के बाद शुक्रवार रात 11 बजे ED की एक टीम पार्थ के घर पहुंची। रातभर पूछताछ के बाद शनिवार सुबह उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद पार्थ के घर के बाहर CRPF तैनात कर दी गई।

TMC ने साधी चुप्पी

पार्थ चटर्जी पर ED की कार्रवाई के बाद TMC ने वेट एंड वॉच की रणनीति अपना ली है। पार्टी के प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि उनके वकील इस मामले को देखेंगे। इसके बाद ही आगे की जानकारी दी जा सकेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here