विफा भी गायत्री परिवार के विश्व स्तरीय गृहे-गृहे यज्ञ में भागीदारी निभाएगा

0
1050
gayatri jap by vipra foundation

उदयपुर। अखिल विश्व गायत्री परिवार की ओर से विश्व स्तरीय गृहे-गृहे यज्ञ अभियान के अन्तर्गत बुद्ध पूर्णिमा, 26 मई को सुबह 9 से 11 बजे के बीच एक ही समय एक साथ घर-घर में होने वाले गायत्री यज्ञ में विप्र फाउंडेशन का जोन-1 ए भी अपनी सार्थक भागीदारी निभाने में जुटा हुआ है। इस जोन के अधीन आने वाले प्रदेश के ग्यारह जिलों में यज्ञ की उत्सव की तरह तैयारियां चल रही है। विप्र फाउंडेशन ने इसके लिए प्रत्येक जिले में संयोजकों की नियुक्तियां की हैं ताकि आयोजन का विराट स्वरूप दिया जा सके।

ऑनलाइन हवन जूम एप के माध्यम से

विप्र फाउंडेशन जोन-1 ए के प्रदेश महामंत्री मुख्यालय लक्ष्मीकांत जोशी ने बताया कि कोरोना महामारी में दिवंगत हुए लोगों की आत्म शांति, वायरस से दूषित हुए वातावरण के शुद्धिकरण, सबकी सद्बुद्धि और कल्याण की भावना के साथ यह धार्मिक अनुष्ठान हो रहा है। इसकी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि यह ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों मोड पर होगा। ऑनलाइन हवन जूम एप के माध्यम से संपन्न होगा। इसका लिंक सबको भेजा जा रहा है। यज्ञ से जुड़ी सभी जानकारियां व्हाटसप के माध्यम से भी दी जा रही है।

गायत्री परिवार के अन्तराष्ट्रीय मुख्यालय शांतिकुंज हरिद्वार से यज्ञ का संचालन किया जाएगा। यज्ञ के दौरान गायत्री परिवार के प्रमुख व देव संस्कृति विश्व विद्यालय के  कुलपति डॉ. प्रणव पंड्या विशेष उद्बोधन देंगे। यज्ञ में गायत्री, महामृत्युंजय मंत्र के अलावा कोरोना निवारण के लिए वेदों के विशिष्ट मंत्रों से भी आहुतियां अर्पित की जाएंगी। यज्ञ की दक्षिणा के रूप में सभी को वर्षा ऋतु में अधिकाधिक पौधे लगाने और वर्षा जल के संरक्षण का संकल्प दिलाया जाएगा। एक व्यक्ति कम से कम 10 घरों में यज्ञ की प्रेरणा दे जिससे हमारा गुरु का शिष्य होना सार्थक हो सके।

 

जोन व जिला स्तर पर इन्हें सौंपा गया है प्रभार

जोशी के अनुसार ललित पानेरी- श्रीमती पुष्पा पानेरी मुख्य मार्गदर्शक, जबकि सहयोगी मंडल में विफा के जोन प्रदेशााध्यक्ष के.के शर्मा,महामंत्री लक्ष्मीकांत जोशी,विफा युवा प्रकोष्ठ प्रदेशाध्यक्ष नरेंद्र पालीवाल,महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती ज्योति आशीर्वाद, नवीनचंद्र शर्मा व गिरीराज शर्मा (दोनों कोटा) में शामिल किए गए हैं।

इसी प्रकार जिला स्तर पर कार्यक्रम संयोजकों की जो नियुक्ति की गई है उसमें उदयपुर में त्रिभुवन व्यास, श्रीमती अर्चना शर्मा व केशव व्यास,बांसवाड़ा में योगेश जोशी, श्रीमती कीर्ति आचार्य, विकास भट्ट, सागवाडा में प्रकाश व्यास व श्रीमती रेखा पंड्या,प्रतापगढ़ में चंद्रशेखर मेहता, श्रीमती पुजा शर्मा व विकास शर्मा,चितौडग़ढ़ में महेंद्र जोशी, शिरिष त्रिपाठी व श्रीमती इंद्रा शर्मा,भीलवाड़ा में दिनेश शर्मा(पूर्व अध्यक्ष नगर परिषद) व श्रीमती अंजु ओझा,कोटा में अजय चतुर्वेदी, निशांत नंदवाना व श्रीमती डॉ. राजेश शर्मा,झालावाड़ में अवनिंदर व्यास, सौरभ शर्मा व श्रीमती मंजु गौतम, बारां में ऋषिवल्लभ शर्मा व सुनील शर्मा, बूंदी में मुकेश दाधीच, सूर्यकुमार शर्मा व संजय शर्मा,राजसमंद में बँकेश सनाढय, प्रमोद पालीवाल, सरिता पालीवाल व प्रवीण जोशी संयोजक होंगे।।

हवन सामग्री नहीं तो घी से अर्पित करें आहुतियां

गायत्री परिवार हरिद्वार से प्राप्त सूचना के अनुसार इस सामूहिक अनुष्ठान में कोई भी व्यक्ति शामिल हो सकता है। यज्ञ पूरी तरह नि:शुल्क है। जिसके पास विशिष्ट हवन सामग्री नहीं हैं वे देसी गाय के गोबर के कंडे पर कपूर से अग्नि प्रज्जवलित कर देसी गाय के घी और घर में उपलब्ध हवन सामग्री से आहुतियां अर्पित कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here